🙏शत-शत नमन!

#proud #tribute #freedom #fighter #life #blog

मूँछों पर ताव,कमर में पिस्तौल, काँधे पर जनेऊ और शेर सी शख़्सियत! के मालिक थे और हमेशा रहेंगे देश को आज़ाद करवाने वाले हमारे “आज़ाद”…चंद्रशेखर आज़ाद!
यूँ तो हिन्दोस्तां में कई जुझारू स्वतंत्रता सेनानी ने जन्म लिया..लेकिन उनमें से चंद्रशेखर आज़ाद ऐसे युवा स्वतंत्रता सेनानी थे,जिन्होंने सबमें ऐसा जोश भरा की आज़ादी हीं सबका धर्म बन गया! शहीदों और शहादत की तुलना करना तो नीचता होंगी लेकिन फिर भी मैं खुद को इनके सिद्धांतों के काफी करीब पाती हूँ…आज़ाद एक ऐसी शख्सियत हैं जिनसे मुझे विशेष लगाव हैं, इनके बारे में मैं हर छोटी-बड़ी बातें जान लेना चाहती हूँ..इनकी सोच से मैं बहुत प्रभावित हूँ…और मैं कोशिश करती हूँ इनके व्यक्तित्व को अनुशरण करने की!!

पहली बार आजाद की अंग्रेज़ों से मुठभेड़ के बारे में इतिहास के किताब में पढ़ना हुआ था तो हैरान रह गयी थी। और अक्सर मैं इस सोच में डूब जाती थी कि इतने कम उम्र में देश के लिए खुद की जान लेना कितना मुश्किल होता होगा न..कई बार खुद को आजाद की जगह रख महसूस करने की कोशिश की क्या वक़्त आने पर मैं ऐसा कुछ कर पाऊँगी, जवाब में मुझे हमेशा कोई उत्तर हीं न मिला..न हीं हाँ,न हीं ना ऐसा कुछ भी नहीं इस अंतरात्मा से सुनने को मिला मुझे कभी भी! कई बार पापा से मैं आज़ाद के व्यक्त्वि के बारे में बहुत सारे सवाल किया करती थी..बहुत से जवाब मिलते थे उनसे..उन जवाब में एक जवाब ये भी होता था कि वो भारत माँ से बेइंतेहा प्यार करते थे,और जिनसे हम निस्वार्थ प्रेम करते हैं, उनके लिए खुद की जान लेना कोई बड़ी बात नहीं होती..उस वक़्त ये बातें तो समझ नहीं आती थी..लेकिन,अब जबकि मै सोचने समझने के काबिल हूँ तो वो बातें यथार्थ और शास्वत सत्य सिद्ध हो रही हैं!!

चंद्रशेखर आज़ाद की बातें दिल पर अमिठ छाप छोड़ती हैं…और जिसे निजी ज़िन्दगी में उतारना और सार्थक करना खुद को उत्साहवर्धक बनाता हैं!! 

“मिज़ाज अपना मिला ही नहीं ज़माने से,न मैं हुआ     कभी इसका न ये ज़माना हुआ मेरा! 🇮🇳

वीरता और निर्भीकता के अमर प्रतीक, महान क्रांतिकारी थे चन्द्रशेखर आजाद!27 फरवरी साल 1931 में आज ही के दिन आजाद शहीद हुए थे!! कोटि-कोटि  🙏🙏 नमन!!

मैं हर उस सोच के खिलाफ हूँ जो मुझे उनकी तरह सोचने पे मजबूर करती है!! #आजाद_हम 🇮🇳

  ❣ Emotional Queen All Rights      Reserved©              

                     2k17©आपकी…Jयोति🙏

Advertisements

29 thoughts on “🙏शत-शत नमन!

  1. The translation was not good. But I felt it was about some martyr hero of India. There appeared to be opinions differing, but it seemed to end with a remembrance to this hero of the country. I liked it although I know the translators robbed me a little.

    Liked by 1 person

    1. Hmmmm…You are Right my respected elder bro! This post is relate to our freedom fighter Chandrashekhar Azad…He had vowed that he would never be arrested by the British police and kept his promise by shooting himself in the head with his last bullet. He was Chandra Shekhar Azad. Azad was an Indian revolutionary who joined the revolution for the Indian independence when he was only 15 years old….and 27th feb is death anniversary of our National Hero…

      Liked by 1 person

      1. Yes dear. What can a stranger to your people say about this man. There are wounds inflicted, unjust against your populace. I would be foolish to attempt a discourse on these matters. But I don’t know what it is to be under such oppression. We experienced some, but I was too little. We had groups which retaliated to their chagrin. Such sad things occurred. Much has changed however. But I hope you have enjoyed whatever celebration this entailed. Your friend and bro; MAO (much love) sincerely.

        Liked by 1 person

  2. नाम – आजाद
    पिता का नाम – स्वतंत्रता
    निवास – जेल
    १५ साल की उम्र १५ बेंत..हर बेंत के साथ भारत माता की जय..वन्दे मातरम्…मारने वाला मुँह बा दिया..जज साहब चौन्हियाँ के गिर गये..वो कफन बाँध निकले थें मौत से तो डरते नहीं थे बेंत से क्या डरते..काकोरी गयें और चैन से सो रहे अग्रेंजो के जबड़े से दाँत उखाड़ लायें..बोलें अब बहोत सो लिए…दोस्तों के साथ मिल साण्डर्स को सुलाने के बाद फिर दहाड़े “लाला लाजपत राय की मृत्यु का बदला ले लिया गया है”…
    अल्फ्रेड पार्क झुंड ने शेर को घेरा..शेर थें ताउम्र आजाद..चुहे कभी पकड़ नहीं पायेंगे था वादा किया सबसे..वादा निभाया..सो गयें माँ के आँचल से लिपट सदा के लिए..देशभक्त क्रांतिकारी आजादी के दीवाने शहीद चन्द्रशेखर आजाद ..हमेशा आजाद रहें
    शत शत नमन है ऐसी अमर वीरात्मा को!🙏

    Liked by 1 person

  3. आज़ाद एक ऐसे स्वतंत्रता सेनानी थे जिनके बिना स्वन्त्रता की कल्पना करना भी मुमकिन नहीं.. मुझे भी बचपन में आज़ाद जैसा बनना था 😊

    Liked by 1 person

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s